Jaya Kishori Biography in Hindi – जया किशोरी का जीवन परिचय हिंदी में

Jaya Kishori Biography in Hindi: दोस्तों आज हम आपको बताने वाले हैं कि जया किशोरी जी का जन्म कहां हुआ था और इन्होंने अपने जीवन में कैसे सफलता की ओर कदम बढ़ाएं और कदम बढ़ाते बढ़ाते क्या-क्या संघर्ष किए।

जैसा कि आप लोग जया किशोरी जी के बारे में बहुत ज्यादा सुनते हैं जया किशोरी जी महिलाओं को संदेश देते हैं कि हर महिला को आगे बढ़ने का पूरा अधिकार है वह अपने अच्छे कर्मों से सफलता की सीढ़ियों पर चढ़ सकती है तो आइए दोस्तों हम जया किशोरी जी के बारे में जानने का प्रयास करते हैं आप ध्यान पूर्वक इस लेख को पडगे

Jaya Kishori Biography

भारत में कई ऐसे कथावाचक हुए हैं जिन्होंने भगवत गीता, रामायण, मीराबाई की कथा, नरसी भक्त जैसी कथाओं का वाचन करके लोगों को आनंदित किया है।

लेकिन आज इस पोस्ट में हम एक ऐसे ही कथावाचक गायिकी की जीवनी आपको बताने वाले हैं जिनका नाम है जया किशोरी

जया किशोरी ने बहुत ही कम उम्र में लोगों को भगवत गीता, नानी बाई का मायरा और नरसी की भात जैसी कथाओं को अपनी मधुर तथा मीठी आवाज के माध्यम से लोगों को सुनाया है

Jaya Kishori एक प्रसिद्ध कथा वाचक है यह जहां कहीं पर भी कथा वाचन का प्रोग्राम करती है वहां पर लाखों की संख्या में लोग इन्हें सुनने के लिए आते हैं।

जन्म13 अप्रैल 1995 को राजस्थान के सुजानगढ़
fees 50 हजार से 10 लाख प्रत्येक कार्यक्रम के
विद्यालय महादेवी बिडला वर्ल्ड एकेडमी कोलकाता
पिता का नाम पूज्य राधे श्याम जी हरितपाल (शिव शंकर शर्मा)
माता का नामपूज्य गीता देवी हरितपाल
बहन चेतना शर्मा
Totel Net Worth approx. 1.5 to 2 crores
डिग्रीBachelor of Commerce
जया किशोरी के गुरूपं. श्री गोविन्दराम जी मिश्र जी
जया किशोरी रियल नेमजया शर्मा
आपको जानकारी के लिए बता दें कि जया किशोरी जी के गुरु पंडित श्री गोविंद राम श्री मिश्र जी ने जया शर्मा से जया “किशोरी “जी की उपाधि दी

“किशोरी” जी का विवाह हुआ या नहीं ?

जया जी की अभी तक शादी नहीं हुई है। उनके कई इंटरव्यू में उन्होंने यह कहा है की अगर वह कभी शादी करती हैं तो वह कोलकाता में करना पसंद करेंगीं।

अगर वह किसी अन्य जगह शादी के बाद जाती हैं तो इसके लिए उनकी यही शर्त है की वह अपने माता-पिता को भी उसी स्थान में शिफ्ट करेंगी ताकि उनके माता -पिता उनके आस-पास रह सकें।

किशोरी जी के आध्यात्मिक जीवन की शुरुआत

किशोरी जी के परिवार का माहौल शुरू से ही आधात्म की ओर रहा है। मात्र 6-7 साल की उम्र में जया जी का आध्यात्मिक सफर शुरू हुआ था। परिवार में इनके दादा दादीजी का इनके ऊपर काफी प्रभाव पड़ा उनके दादा दादीजी उन्हें भगवान् श्री कृष्ण जी की कहानियां सुनाया करते थे।

मात्र 9 साल की उम्र में किशोरी जी ने लिंगाष्टकम, शिव तांडव स्त्रोत, मधुराष्टकम्रा, शिवपंचाक्षर स्तोत्रम्, दारिद्रय दहन शिव स्तोत्रम् जैसे कई स्त्रोत याद कर लिए थे। साथ ही गीत संगीत भी शुरू कर दिया था।

Jaya Kishori Famous Bhajan

जया किशोरी जी ने ज्यादातर भजन भगवान कृष्ण और राधा जी के ऊपर गये हैं। जिनमे से कुछ प्रमुख भजन की सूची नीचे दी गयी है

  • मेरा आपकी कृपा से सब काम हो रहा है
  • माँ बाप को मत भूलना
  • कृष्ण गोविन्द गोपाल नंदलाल
  • इतनी खात्री करवावे ईगो काई लगे
  • सबसे ऊँची प्रेम सगाई
  • हरे कृष्णा हरे कृष्णा हरे रामा हरे रमा
  • राधिका गौरि से
  • गाड़ी में बिठा ले रे बाबा
  • जगत के रंग क्या देखू
  • लिंगाष्टकम मृत्युंजय जाप
  • अच्युतम केस्वाम कृष्ण दामोदरम
  • आज हरी आये विदुर घर

इन्ही में से एक भजन किशोरी जी द्वारा गया गया है जिसका आप आनंद ले सकते हैं –

”मीठे रस से भरी रे, राधा रानी लागे,मने कारो कारो जमुनाजी रो पानी लागेयमुना मैया कारी कारी राधा गोरी गोरीवृन्दावन में धूम मचावे बरसाना री छोरीव्रज्धाम राधाजू की रजधानी लागेमीठे रस से भरी रे, राधा रानी लागे

आपको कैसा लगा हमारा आर्टिकल अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया हो तो आशा करेंगे आप अपने

दोस्तो को साथ शेयर करे धन्यवाद।

क्या शादी करेंगी जया किशोरी?

FAQs: जया किशोर जी का जीवन परिचय

जया किशोर जी की शादी कब हुई?

2023 जया जी की अभी तक शादी नहीं हुई है।

jaya kishori husband name?

अभी सदी नहीं हुयी |

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top